7 Proven Remedies to Deal Workload : जब बॉस ज़्यादा काम दे तब क्या करें?

Share This Post

आप को ये जान कर बिलकुल भी हैरानी नहीं होगी कि किसी भी ऑफिस मे केवल कुछ लोग ही काम करते हैं और Heavy Workload का शिकार बनते हैं। बाकी के लोग बस मस्ती मारते हैं। बॉस भी उन्ही लोगो से काम कराता है जो गधों की तरह काम मे लगे रहते हैं। बाकी लोगो से काम कराने मे उसे उसकी नानी याद आ जाती है।

ऐसे मे काम करने वाले कर्मचारियों के ऊपर काम का अतिरिक्त बोझ आ जाता है और उनकी परफॉर्मेंस पर भी बुरा असर पड़ता है। तो ऐसा क्या करें कि बॉस को अतिरिक्त काम के लिए मना भी कर दें और उसे बुरा भी न लगे ? इस ब्लॉग मे हम आपको गुरु मंत्र देने जा रहे हैं, इसलिए पूरे ब्लॉग को ध्यान से पढ़िये और अपना workload कम कीजिये।

7 Proven Remedies to Deal Workload
Dealing Workload: Image by Lukas Bieri from Pixabay

Remedies for Extreme Workload: अपने कामों की लिस्ट तैयार रखिए

सबसे महत्वपूर्ण और जरूरी बात ये है की आपको खुद ही अपने कामों की एक लिस्ट तैयार करनी होगी। इस लिस्ट को आप अपनी table पर इस तरह लगा कर रखेँ की वो सबको नज़र आए। Workload कितना है, ये इस लिस्ट मे नज़र आना चाहिए।

Remedies for Extreme Workload: बॉस को अपनी लिस्ट से अवगत कराइए

अगर बॉस आपके पास कुछ काम ले कर आता है तो उसे अपने कामों की जानकारी जरूर दें। उसके सामने काम करते नज़र आयें। बॉस को बिलकुल भी ऐसा महसूस न होने दें की आप निठल्ले बैठे हैं और आपके पास कुछ काम नहीं है। उसे अपने कामों की पूरी जानकारी दें और बतायेँ की कौन सा काम आप कब complete करने वाले हैं।

Remedies for Extreme Workload: बॉस को अपनी priority बताएं

लिस्ट दिखाने के बाद भी अगर बॉस उंगली करने पर उतारू हो तो उसे अपनी priorities के बारे मे ज़रूर बताएं। बॉस से ही पूछ लें की आप बताओ पहले क्या क्या काम करने हैं। ध्यान रखें, अगर आपकी अपनी कुछ भी priority नहीं है तो आप बॉस का अतिरिक्त काम लेने के लिए कमर कस लें।

Remedies for Extreme Workload: बॉस को अपनी पसंद के बारे मे बतायें

ये तो आपको भी पता होगा कि हर आदमी रणछोड़दास चांचड़ नहीं होता। कुछ लोग फरहान कुरेशी भी होते हैं जिनकी पसंद औरों से एकदम अलग होती है। इस बात का बेहद ध्यान रखें और बॉस को अपनी skills और पसंद के बारे मे बताएं। अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो आपको CSS पर भी काम करना पड़ेगा और Machine Learning पर भी। उसके बाद आपके लौ… लग जाएंगे।

Remedies for Extreme Workload: बॉस को अतिरिक्त काम के लिए सीधे हाँ न बोलें

समय सीमित है और इस सीमित समय मे ही आपको काम पूरे करने हैं। सारी प्लानिंग करने के बावजूद भी अगर आपको अतिरिक्त काम करने के लिए बोला जाता है तो बॉस से सोचने के लिए थोड़ा समय मांग लें। बॉस को सीधे मना न करें। उसके कठोर हृदय पर चोट तो लगेगी मगर आप ओखली मे सिर देने से बच जाएंगे।

Remedies for Extreme Workload: हाँ बोलने की साथ ही कुछ कामों को शिफ्ट भी करें

अब जब आपको अतिरिक्त काम करना ही पड़ रहा है तो बॉस से अनुरोध करें कि वो आपके अन्य कुछ कामों को दूसरे से करा लें। उन्हे बतायें कि इससे आवश्यक काम भी हो जाएंगे और workload भी distribute हो जाएगा। इस तरह काम करने से आपके बाकी के काम हो जायेंगे और आप अतिरिक्त काम की ज़िम्मेदारी भी निभा पाएंगे।

Remedies for Extreme Workload: बॉस से काम करने के लिए अतिरिक्त समय भी मांगें

देखिये, कोई आदमी ऑफिस मे मक्खी मारने या सोने नहीं आता। सबके पास कुछ न कुछ काम रहता है। फर्क ये है कि किसी के पास ज्यादा और किसी के पास कम काम होता है। मान लीजिये आपके पास बहुत काम है मगर फिर भी बॉस आपसे अतिरिक्त काम करने को बोलता है, तो इसमे आपको अपनी सुलगाने की जरूरत नहीं है।

अच्छी तरह सोच समझ कर बॉस से अतिरिक्त समय की मांग करें और काम के लिए हाँ कर दें। इससे बॉस फूला नहीं समाएगा। सोच लीजिये अगर आपने सीधे न बोल दिया, तो बॉस फूल कर कुप्पा हो जाएगा और मौके की तलाश मे रहेगा कि आपको कब पेला जाए।

वैसे देखा जाए तो आपको अतिरिक्त कार्यभार लेने से ज़रा भी नहीं चूकना चाहिए। यह एक तरीके से opportunity है और आपको इसे सहर्ष स्वीकार कर काम पर लग जाना चाहिए।

इसका मतलब ये भी नहीं है की आप गोबर बुद्धि की तरह हाँ मे हाँ मिलाते जाएँ और सारे काम खुद ही ले लें। अपनी कार्यक्षमता को समझें और उसके बाद अच्छे तरीके से विचार करने के बाद ही अतिरिक्त कार्यभार लें। Work-Life Balance का ध्यान रखें।

ध्यान रखिए, अगर आप अतिरिक्त कार्यभार का निर्वाह अच्छे तरीके से कर पा रहे हैं तो आपकी skills और भी निखरेगी और आपके promotion पाने के अवसर भी बढ़ जाएंगे।

ये भी पढ़ें : ऑफिस में जल्दी (Quick) प्रमोशन कैसे पायें, वो भी आसानी से !


Share This Post

Leave a Reply