टाल मटोल की आदत छोड़ें – बस 1 मिनट में | Stop Procrastination in Just 1 Minute

Share This Post

टाल मटोल की आदत छोड़ें - बस 1 मिनट में | Stop Procrastination in Just 1 Minute
Image By Lena Bell on Unsplash

Procrastination यानि कि टाल मटोल की आदत हर इंसान मे पाई जाती है। थोड़ा तो चलता है मगर जिस किसी को भी इसकी गंदी आदत लग गई समझो वो तो गया। ये आदत इंसान के विकास का रास्ता ख़त्म कर देती है।

टाल मटोल का मतलब है आप जिन कार्यों को करना ही नहीं चाहते हैं उन्हे delay करना या फिर उन्हे लगातार postpone करना। सीधा साधा कहें तो मन मे कोई इच्छा ही नहीं होती की काम को खतम किया जाए।

Why Procrastination? आखिर हम टाल मटोल करते क्यों हैं?

कभी कभी इसे कामचोरी भी कहा जाता है। 😀

वैसे देखा जाए तो Procrastination या टाल मटोल एक मनोवैज्ञानिक अवस्था है। इसमें व्यक्ति, किसी भय या उस काम के प्रति अनिच्छा की वजह से काम को टालने की कोशिश करता है। कुछ जाने पहचाने कारण मैंने नीचे पंक्तिबद्ध किए है।

आलस्य

आलस्य एक प्रमुख वजह है कि व्यक्ति किसी काम को बाद के लिए टाल देता है। उसे ऐसा लगता है, या यूं कहें कि वह जबरदश्ती दर्शाता है कि अमुक काम इतना आवश्यक नहीं है कि उसे अभी किया जाए। बस इसी सोच के साथ वह अपने काम को आगे टरकाता रहता है।

काम कम और समय ज्यादा

ये भी एक बड़ी समस्या है कि व्यक्ति के पास काम कम होता है और समय ज्यादा। उसे लगता है थोड़ी मौज कर लेते हैं, काम के लिए तो पर्याप्त समय है, बाद मे कर लेंगे। आज कल के विद्यार्थी तो लाजवाब है, साल भर कुछ पढ़ेंगे नहीं, और एक रात में इंजीनियरिंग की परीक्षा पास करने का हुनर दिखाएंगे।

तुर्रम खान समझने की भूल

कुछ लोग तो अपने आप को बहत बड़ा तुर्रम खान समझते हैं। काम मिलने पर कहते है, ये भी कोई काम है, एक घंटे मे खतम कर लूँगा। इसी सोच के साथ वो काम को टालते रहते है, और अंत मे घंटा ही हाथ लगता है।

फ़ेल होने का डर

ऐसे लोग बेचारे किसी काम के नहीं होते। इन्हे जब काम की जानकारी नहीं होती तब वो डरते हैं कि इसे कैसे किया जाए। उनके मन मे भय व्याप्त हो जाता है कि वो इस काम को नहीं कर पाएंगे।

इसीलिए वो कोशिश करते हैं कि आसान काम पहले कर लिया जाए और कठिन वाला बाद मे कर लेंगे। मगर उन्हे भी पता है कि वो काम को कैसे टाल रहे हैं।

काम को टालने की इसी आदत की वजह से बाद मे इनकी चौड़े से लग जाती है।

Ways to Stop Procrastination-टाल मटोल की आदत छोड़ने के तरीके

अभी मैं आप लोगों को बताऊंगा कि कैसे आप छोटी छोटी तकनीक का इस्तेमाल करके Procrastination की आदत से छुटकारा पा सकते हैं।

सबसे कठिन काम को सबसे पहले करें

यह एक बहुत अच्छा तरीका है Procrastination को दूर करने का। जिस काम को आप कठिन समझ कर उसे आगे आगे टाल रहे हैं, अगर वही सबसे पहले कर लेंगे तो बाद के लिए आसान काम ही बचेंगे।

इससे आपका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा और आप इस टाल मटोल की समस्या से छुटकारा भी पा लेंगे।

जो भी होगा देखा जाएगा

सबसे पहले तो आपको, अपने आप को मजबूत बनाना होगा। अगर आप किसी काम को इस वजह से टाल रहे है की वह मज़ेदार नहीं है या उसमे गलती होनी की बहुत संभावनाएं हैं, तो यह खयाल मन से निकाल दें।

सोचना क्या जो भी होगा देखा जाएगा, इस गाने को गुनगुनाईए और काम को कर डालिए। यकीन मानिए, परिणाम बहुत अच्छा आयेगा। काम से डरें नहीं, कर डालें ।

Instant Action – त्वरित कार्य करें

Procrastination समय लेता है। जब भी आप किसी काम को टालने के बहाने सोचते हैं, आपको कम से कम 2 या 3 मिनट का समय लगता है। आप इससे भी कम समय में, मतलब कि 1 मिनट के भीतर इस काम को करना शुरू कर दें, काम को टालने का समय ही नहीं मिल पाएगा। 😀

काम को कई टुकड़ों मे बाँट लें

आप ज्यादा न करें, बस जिस काम को आप टाल रहे हों, उसका थोड़ा सा भाग बस केवल एक मिनट मे कर लीजिये। जैसे –

अगर पढ़ने का मन नहीं करे तो बस केवल एक मिनट के लिए किताब खोल लें। एक मिनट मे कोई एक फॉर्मूला तो देख ही सकते हैं।

सुबह उठकर मॉर्निंग वॉक पर नहीं जा पाते तो बस एक मिनट का साहस उठाइए और बाथरूम जा कर मुंह धुल लीजिये।

किसी काम को टालना चाहते हैं, तो बस केवल एक मिनट के लिए टालिए और उसके अगले ही पल कर डालिए।

तो दोस्तों आपने देखा कि कैसे Procrastination की आदत बदली जा सकती है। आपको बस केवल एक मिनट के भीतर action ले लेना है और आप काम टालने से बच जाएंगे।


Share This Post

Leave a Reply